नई दिल्ली: कई दिनों से चैनलों की सुर्खियां बनी और बाबा राम-रहीम की तथाकथित बेटी हनीप्रीत जिसे हरियाणा और पंजाब की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। जिसे खोजने के लिए पुलिस ने दिन रात एक कर दी उसे एक निजी चैनल ने खोज निकाला। चैनल पर हनीप्रीत ने बताया कि उन पर देशद्रोही का बेबुनियाद आरोप लगाए जा रहे है। उनके और बाबा के रिश्ते को भी कलंकित किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार मंगलवार को हनीप्रीत सरेंडर कर सकती है।
चैनल से बात में हनीप्रीत सिंह ने कहा कि जिस दिन बाबा राम रहीम को कोर्ट ने सजा सुनाई उस दिन काफी फ़ोर्स लगी थी। वहाँ बिना किसी परमिशन के में मौजूद नहीं हो सकती थी। वह कोर्ट की जानकारी में ही एक परिवारी जन की हैसियत से बाबा के साथ वहां मौजूद थी। । लेकिन उन पर बिना सबूतों के देशद्रोही का आरोप लगा दिया गया। हनप्रीत ने कहा कि किसी भी ऑडियो या वीडियो में यह साबित नहीं होता की उन्होंने हिंसा भड़काने के लिए किसी को उकसाया या भड़काने की बात कही हो। वह कोर्ट के आदेश पर ही बाबा के साथ गई। पुलिस ने भी उन्हें रोकने की कोशिश नहीं की। उन्होंने बाबा और उनके रिश्ते पर पूछे गए सवाल पर कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि बाप बेटी जैसे पवित्र रिश्ते को कलंकित किया। जिस तरह का दिखाया जा रहा है हनीप्रीत उस प्रकार की नहीं है। उसने कहा कि बाबा को भी गलत फसाया गया है कहीं भी डेरा में कोई भी आपत्तिजनक वस्तु या कंकाल डेरा में नहीं मिला। न ही वे दो लड़कियां मिली जिन्होंने आरोप लगाया। बाबा निर्दोष है और बरी होंगे। इतने दिन कहाँ रही और सामने क्यों नहीं इस प्रश्न के जवाब में हनीसिंह ने कहा कि देशद्रोही के आरोप के बाद वे डर गई थी और लोगों की सलाह पर ही छुपती रही। वे हरियाणा,राजस्थान,पंजाब और दिल्ली में ही थी। उन्होंने दिल्ली हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका लगाई थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। अब वे कानून के तहत हरियाणा हाइकोर्ट की शरण में जा सकती है। सरेंडर के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि इस पर कानूनी सलाह ले ने के बाद फैसला लेंगी। सूत्रों का कहना है कि हनीप्रीत के पास कोई विकल्प नहीं है वह मंगलवार को सरेंडर कर सकती है।
Pics -aajtak web

LEAVE A REPLY